Change Language:

English

हमारे बारे में

प्रस्‍तावना

श्रेणियां

  • डेयरी किसान द्वारा पालन योग्‍य उत्‍कृष्‍टतम स्‍वदेशी गोपशु नस्‍लें
  • उत्‍कृष्‍टतम कृत्रिम गर्भाधान तकनीशियन (एआईटी)
  • उत्‍कृष्‍टतम डेयरी सहकारी/दुग्‍ध उत्‍पादक कंपनी/डेयरी किसान उत्‍पादक संगठन

उद्देश्‍य

  • वैज्ञानिक तरीके से दुधारू पशुओं की स्‍वदेशी नस्‍लों की उत्‍पादकता बढ़ाने हेतु किसानों को प्रोत्‍साहित करना।
  • राष्‍ट्रीय गोकुल मिशन (आरजीएम) के अंतर्गत कृत्रिम गर्भाधान तकनीशियनों को 100 प्रतिशत एआई कवरेज करने के लिए प्रोत्‍साहित करना।
  • सहकारी और दुग्‍ध उत्‍पादक कंपनियों को विकास के लिए प्रोत्‍साहित करना और उनमें प्रतिस्‍पर्धात्‍मक भावना जागृत करना।
पुरस्‍कारों के लिए सामान्‍य संदर्भ
  • प्रत्‍येक श्रेणी में पहले स्‍थान के लिए पुरस्‍कार की राशि 5,00,000/- रुपए (मात्र पांच लाख रुपए), दूसरे स्‍थान के लिए 3,00,000/- रुपए (मात्र तीन लाख रुपए) और तीसरे स्‍थान के लिए 2,00,000/- रुपए (मात्र दो लाख रुपए) होगी जिसके साथ योग्‍यता प्रमाणपत्र और स्‍मारिका भी दी जाएगी।
  • सफल पुरस्‍कार प्राप्‍तकर्ताओं को यात्रा भत्‍ते/दैनिक भत्‍ते की प्रतिपूर्ति की जाएगी जो द्वितीय श्रेणी एसी किराए तक सीमित होगी। सहकारी/दुग्‍ध उत्‍पादक कंपनियों (एमपीसी) के मामले में सहकारी/एमपीसी से सचिव सहित केवल दो व्‍यक्तियों के लिए ही यात्रा भत्‍ते/दैनिक भत्‍ते की प्रतिपूर्ति पर विचार किया जाएगा।
  • सहकारी/एमपीसी के मामले में, पुरस्‍कार राशि सहकारी/एमपीसी खाते में आहरित की जाएगी।
  • जिन किसानों/कृत्रिम गर्भाधान तकनीशियनों को आरजीएम के अंतर्गत पहले भी पुरस्‍कृत किया जा चुका है वे गोपाल रत्‍न पुरस्‍कार 2021 के लिए पात्र नहीं होंगे।